Personality
श्री शिवराज सिंह चौहान शिवराज सिंह चौहान का जीवन परिचय भारतीय जनता पार्टी के सदस्य और मध्य प्रदेश के वर्तमान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का जन्म 5 मार्च, 1959 को सिहोर, मध्य-प्रदेश में हुआ था. शिवराज सिंह ने बरकतुल्लाह यूनिवर्सिटी, भोपाल से गोल्ड मेडल के साथ दर्शनशास्त्र में स्नातकोत्तर की उपाधि ग्रहण की. शिवराज सिंह चौहान के परिवार में उनकी पत्नी साधना और दो पुत्र हैं. ..............View more..
पूर्वी मप्र में बारिश के आसार, ओले की आशंका भी, किसान चिंतित
Bookmark and Share

 मौसम विशेषज्ञों के मुताबिक बुधवार को होशंगाबाद, शहडोल और जबलपुर संभागों में कहीं-कहीं ओले गिर सकते हैं। इसी के साथ ग्वालियर, चंबल, सागर, रीवा और होशंगाबाद संभागों में हल्के से मध्यम कोहरा भी रहने का अनुमान है।

मौसम विशेषज्ञों के मुताबिक पश्चिमी विक्षोभ के कारण राजस्थान के ऊपर हवा में ऊपरी चक्रवात बना हुआ है। इसके साथ ही मराठवाड़ा में भी यह स्थिति है है। इसके अलावा ऊपर से पश्चिमी हवा आ रही है। नीचे बंगाल की खाड़ी से पूर्वी हवा आ रही है। पश्चिमी और पूर्वी हवा मिलने की वजह से प्रदेश के विभिन्न हिस्सों में ओले गिरे हैं। प्रदेश के विभिन्न हिस्सों में कोहरा छाया रहने के भी आसार हैं।

इधर, मंगलवार को भोपाल में सुबह घना कोहरा छाया रहा। प्रदेश में सबसे कम तापमान 8 डिग्री सेल्सियस शिवपुरी में दर्ज किया गया। प्रदेश के चार महानगरों में सबसे कम न्यूनतम तापमान ग्वालियर में 10.5 डिग्री सेल्सियस रहा। बादल छाए रहने के कारण अधिकांश स्थानों पर दिन के तापमान में गिरावट आई है।

सिवनी में 2 इंच की परत जम गईं

जबलपुर। महाकोशल-विंध्य में मंगलवार को बारिश व ओलावृष्टि ने कहर बरपाया। सिवनी जिले में दोपहर करीब 2 बजे से 15 मिनट तक ओलों की बारिश हुई और इसके बाद झमाझम बारिश का दौर शुरू हो गया। ओलों व बारिश से अरी और बेलपेठ क्षेत्र में खड़ी फसलें खेतों में बिछ गईं। अरी के गंगेरूआ और पारा में खेतों और सड़कों में एक से दो इंच तक ओले की परत जम गई। सुकतरा के चक्कीखमरिया, बेलपेठ सहित एक दर्जन से अधिक गांव में बेर के आकार के ओले गिरे। ओलावृष्टि से गेहूं और चना की फसलें खेतों में बिछ गईं। सिवनी-कटंगी मार्ग पर गंगेरुआ के पास सड़क पर दो इंच तक ओलों की परत जम गई।

नरसिंहपुर में बारिश-ओले से जिले के 100 गांव प्रभावित

नरसिंहपुर में झमाझम बारिश के साथ गोटेगांव और नरसिंहपुर तहसील में कई स्थानों पर हुई ओलावृष्टि से चना, गेहूं, मसूर, अरहर की फसलों को नुकसान पहुंचा है। बारिश-ओले से जिले के करीब 100 गांव प्रभावित हुए हैं। बारिश का दौर जारी है। मौसम विभाग का अनुमान है कि बारिश के साथ जिले में एक बार फिर ओलावृष्टि संभव है।

Comments
1
Your View
Name
Email
Description
National
बॉलीवुड को चपेट में लेने वाले "मी टू" अभियान के तहत संगीतकार अनु मलिक पर द...
National
: CBI ने स्पेशल डायरेक्टर राकेश अस्थाना के खिलाफ FIR दर्ज की है. सूत्रों का...
National
पेट्रोल और डीजल के दामों ने एक बार फिर आम आदमी को राहत दी है. रविवार को लगा...
National
शिमरोन हेटमायर के शतक (106) और किरोन पॉवेल की फिफ्टी (51) से वेस्टइंडीज ने ...


coppyright © 2018 News View Promoted by : SiddhTech IT Solutions
news hindi
Designing & Development by SWA